Skip to main content

केरल में 500 आदिवासियों को बीट वन अधिकारी नियुक्त किया जाएगा

Posted on March 21, 2023 - 4:29 pm by

केरल के इतिहास में पहली बार राज्य भर क 500 आदिवासियों को बीट वन अधिकारी(BFO) के रूप में नियुक्त किया जाएगा. यह ऐतिहासिक कदम आदिवासियों को उनकी सांस्कृतिक पहचान को बनाए रखने के लिए किया गया है. आदिवासियों मुख्यधारा में शामिल करने की राज्य सरकार की एक पहल है. हालांकि शुरू में राज्य सरकार ने अनिचछा जाहिर की थी, लेकिन अधिकारियों के मेहनत के बाद यह संभव हो पाया है.

विभिन्न आदिवासी समुदायों से होने वाले 500 भर्तियों में 100 महिलाएं शामिल हैं. एक विशेष भर्ती अभियान के माध्यम से चयनित सबसे अधिक भर्तियां वायनाड से है. जिसकी कुल संख्या 170 है. सभी अरियप्पा या वालयार में प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे.

क्या है बीट वन अधिकारी पद

बीट अधिकारी का काम अपने बीट में दिन-प्रतिदिन के नियमित कार्य करना है. जैसे वन सीमाओं की रखवाली, शिकारियों पर छापेमारी करना, शिकार के लिए लाइसेंस जारी करना और शिकारियों से फीस वसूलना आदि शामिल है.

भारत में बीट ऑफिसर होने का मतलब है राइफल और बाजूबंद के साथ बीट पर रहना. कई वन अधिकारी शिकार के लिए लाइसेंस जारी करने के लिए अधिकृत हैं.

पुलिस अकादमी में मिल सकता है प्रशिक्षण

वन मंत्री एके ससींद्रन के अनुसार, “इससे बल में युवा रक्त का संचार होगा, जिससे इसे नया जीवन मिलेगा. सरकार उन्हें पुलिस अकादमी में प्रशिक्षित करने की संभावना पर भी विचार कर रही है.”

बीएफओ के रूप में आदिवासियों की नियुक्ति से विभाग को वनों के बारे में उनके निहित ज्ञान का प्रभावी उपयोग करने में मदद मिलेगी. यह पिछली सरकार के कार्यकाल के दौरान 2021 में संकल्पित एक पहल थी. तत्कालीन अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति मंत्री ए के बालन और वन मंत्री के राजू ने प्रस्ताव तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

बालन ने कहा कि पुलिस, आबकारी और वन जैसे बलों में एसटी समुदायों की उपस्थिति निर्णयों के पूरा करने में अधिक प्रभावी बनाएगी. इससे लोगों में सदभावना को बढ़ावा मिलेगा, क्योंकि वे ऐसे अधिकारियों से आसानी से मिल सकेंगें.

वे आदिवासियों का विश्वास जीत सकते हैं. इन समुदायों के लोगों का जंगल के साथ संबंध है. इसके अलावा इस गलत धारणा को दूर करने में मदद मिलेगा कि सरकार और अधिकारियों का उनसे कोई संबंध नहीं है.

मंगलवार को मुख्यमंत्री द्वारा जिमी जॉर्ज इंडोर स्टेडियम में एक समारोह में रंगरूटों को नियुक्ति आदेश सौंपे जाएंगे.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.