Skip to main content

असम: जागीरोड में 11 ईसाई आदिवासी परिवारों ने अपनाया हिंदू धर्म

Posted on February 28, 2023 - 2:00 pm by

असम में 11 आदिवासी परिवारों ने हिंदू धर्म अपनाया. ये परिवार पूर्व में ईसाई धर्म को अपना चूके थे. सोमवार 27 फरवरी को असम गोभा देउराजा राज परिषद ने तिवा भाषा संस्कृति अरु उद्योग पर्व नामक कार्यक्रम आयोजित किया था. मोरीगांव जिलांतर्गत जागीरोड़ के तिवासोंग गांव में यज्ञ सहित विभिन्न धार्मिक अनुष्ठानों के बाद पारंपरिक धर्म में वापस आ गए.

कार्यक्रम के आयोजक जुरसिंग बोरोदोलोई का कहना है कि हम पहले ही घर वापसी का अभियान चला चुके हैं. कामरूप के 2 गांवों के निवासी इससे पहले अपने मूल हिंदू धर्म में वापस आ गए हैं. गोभा देवराज राज परिषद ने तिवा भाषा संस्कृति अरु उद्योग पर्व नाम से एक कार्यक्रम आयोजित किया है. जिसके माध्यम से तिवासोंग के 11 परिवारों (142 लोग) ने हिंदू धर्म अपना लिया. तिवा जनजाति के लगभग 1,100 परिवार के सदस्य पहले ईसाई धर्म में परिवर्तित हो गए थे.

जुरसिंग ने आगे कहा कि अपनी इच्छा के अनुसार तिवा समुदाय (हिंदू धर्म) में वापस आ गए. उन्होंने सनातन और हिंदू धर्म में हमेशा आस्था और विश्वास रखने का वादा किया है. बोरदलोई ने यह भी कहा कि उन्होंने अपनी ईसाई पहचान को त्याग दिया और आज से हिंदू तिवा संस्कृति और परंपरा को अपना लिया है.

महासचिव बोरदलोई ने कहा कि तिवा समुदाय में जो लोग हिंदू धर्म में परिवर्तित हुए, वे जन्म से हिंदू थे. उनके कुछ दादा-दादी आर्थिक परिस्थितियों और शिक्षा की कमी के कारण ईसाई धर्म में परिवर्तित हो गए थे.

उन्होंने कहा कि हम धर्मान्तरित लोगों का पूरा समर्थन करेंगे ताकि वे उचित आजीविका कमा सकें. मैं उन्हें कृषि जैसे प्रशिक्षण कार्यक्रमों में शामिल कराने का प्रयास करूंगा.

उन्होंने दावा किया कि असम सरकार ने उनकी काफी मदद की है. बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले इसके लिए तिवा परिषद द्वारा विद्यालयों की स्थापना की जाएगी. बोरदलोई ने कहा कि परिषद मतदाता सूची में उनके नाम शामिल कराने का प्रयास कर रही है, राशन कार्ड भी तैयार किए गए हैं.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.