Skip to main content

छत्तीसगढ़: फर्जी आदिवासी प्रमाण पत्र बनाने के आरोप में ऋचा जोगी पर FIR

Posted on November 17, 2022 - 1:39 pm by

छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के अध्यक्ष अमित जोगी की पत्नी ऋचा जोगी के विरुध्द मुंगेली थाने में FIR दर्ज की गई है. ऋचा जोगी के विरुद्ध आरोप है कि उन्होंने खुद को गोंड जाति का बताते हुए जाति प्रमाण पत्र बनवाया था.  जो कि गलत था. राज्य स्तरीय प्रमाणीकरण छानबीन समिति अनुसूचित जाति विकास ने इस संबंध में कार्रवाई के आदेश कलेक्टर को दिए थे. ऋचा जोगी पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की बहु है.

क्या है मामला

ऋचा जोगी के जाति का मसला मरवाही उप चुनाव के दौरान उठा,  जबकि छजका से करीब-करीब तय प्रत्याशी अमित जोगी का जाति प्रमाण पत्र भूपेश बघेल सरकार ने निरस्त कर दिया. उसी वक्त यह मसला सामने आया कि  ऋचा जोगी के पास गोंड जाति का प्रमाणपत्र है. उसे भी निरस्त कर दिया गया. ऋचा जोगी को मुंगेली से 17 जुलाई 2020 को जाति प्रमाण पत्र जारी हुआ था. जिसे 16 अक्टूबर 2020 को निरस्त कर दिया गया.

FIR की कॉपी/Twitter

उसके बाद यह मामला उच्च स्तरीय प्रमाणीकरण छानबीन समिति आदिम जाति अनुसूचित जाति विकास के पास पहुंचा. और 18 जून 2021 को इस हाई पॉवर कमेटी ने भी जिला स्तरीय छानबीन समिति की रिपोर्ट को सही माना. इसके बाद ऋचा जोगी का जाति प्रमाण पत्र निरस्त किया गया. जांच में यह पाया गया कि वे गोंड जाति की नहीं,  बल्कि उनके पूर्वजों के अभिलेखों में ईसाई दर्ज है. जाति की छानबीन करने वाली राज्य स्तरीय प्रमाणीकरण छानबीन समिति के सिफ़ारिशों के अनुरूप ऋचा जोगी के विरुद्ध अपराध थाना मुंगेली में दर्ज कराया गया है.

फर्जी जाति प्रमाण पत्र मामले में एफआईआर दर्ज

थाना मुंगेली में श्रीमती ऋचा जोगी के विरूद्ध अपराध क्रमांक 651/22 के तहत FIR दर्ज की गई है. इस FIR में सामाजिक पारिस्थितिक प्रमाणीकरण अधिनियम 2013 की धारा 10 के तहत मामला क़ायम किया गया है.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.