Skip to main content

छत्तीसगढ़: बेटी को बचाने जंगली सूअर से भिड़ी, महिला की मौत

Posted on March 1, 2023 - 11:21 am by

छत्तीसगढ़ में एक आदिवासी महिला दुवसिया बाई ने अपनी बेटी को बचाने के लिए एक जंगली सूअर से लड़ते हुए प्राण की आहुति दे दी. वह लगभग आधे घंटे तक लड़ी. जंगली सूअर को उसने ढेर कर दिया लेकिन अपनी जान नहीं बचा सकी. हालांकि, उसकी बेटी रिंकी की जान बच गई और उसका इलाज चल रहा है.

क्या है पूरा मामला

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में पसान थाना क्षेत्र के तेलियामार गांव में दुवसिया बाई और उसकी 11 वर्षीय बेटी रिंकी काली मिट्टी की खुदाई कर रही थी. घटना रविवार की है, गांव से डेढ़ किलोमीटर दूर जंगल के अंदर काली मिट्टी एकत्र कर रही थी. रिंकी गड्ढे के उपर खड़ी थी.

उसी के दौरान अचानक एक जंगली सूअर उसकी ओर बढ़ा और उसे नीचे गिरा दिया. बेटी को बचाने महिला जान की परवाह किए बिना सूअर से भिड़ गई. सूअर का दांत महिला के पेट में घुस गया और वह बुरी तरह जख्मी हो गई. इसके बाद भी वह लड़ती रही. आपाधापी में महिला की साड़ी खुल गई और सूअर का चेहरा उलझ गया. संभवत: उसके बाद दम घुटने से सूअर भी मर गया. संघर्ष में महिला और सूअर दोनों की जान चली गई. घटना के बाद से बच्ची डरी हुई है, उसे भी अस्पताल में दाखिल कराया गया है.

मृतका दुवसिया बाई/ट्वीटर

पसान वन परिक्षेत्र के रेंजर रामनिवास दहायक का कहना है कि घटनास्थल पर संघर्ष के निशान मिले हैं. महिला के शव के उपर ही सूअर की लाश पड़ी थी. ऐसा लग रहा है कि साड़ी में मुंह उलझने की वजह से सूअर का दम घुट गया और उसकी मौत हो गई. ग्रामीण भी सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे और सूअर की लाश पड़ी थी और उसका मुंह साड़ी में बंधी हुई अवस्था में था.

बहरहाल पुलिस ने शव का पंचनामा कार्रवाई कर शव को स्वजनों को अंतिम संस्कार के लिए सुपुर्द कर दिया है. उधर वन विभाग ने भी सूअर का पोस्टमार्टम कराने के बाद शव का अंतिम संस्कार कर दिया. मृतका के स्वजनों को वन विभाग ने 25 हजार रूपये तात्कालिक सहायता राशि प्रदान की है.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.