Skip to main content

छत्तीसगढ़: बालोद से निकली दंतेवाड़ा धाम यात्रा, सैकड़ो आदिवासी होंगे शामिल

Posted on April 10, 2023 - 5:14 pm by

छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में मांझी अंतरराष्ट्रीय समाजवाद आदिवासी किसान सैनिक संस्था प्रतिवर्ष बालोद जिले के ग्राम बघमार से दंतेवाड़ा धाम यात्रा निकालती है. क्रांतिवीर कंगला मांझी सरकार पर माता की विशेष कृपा रही है.

माता के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए ही दंतेवाड़ा धाम यात्रा का आयोजन किया जाता है. पांच दिवसीय धाम यात्रा सोमवार को बालोद जिले से प्रारंभ हो गई, जिसमें हजारों की संख्या में समाज के सैनिक, सभी प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में आदिवासी शामिल है.

बता दें कि, मांझी अंतरराष्ट्रीय समाजवाद आदिवासी किसान सैनिक संस्था प्रतिवर्ष दंतेवाड़ा धाम यात्रा का आयोजन करती है. संस्था के सचिव आरएस उइके ने जानकारी दी थी कि, 10 अप्रैल को सुबह 8 बजे बालोद से यह भव्य यात्रा प्रस्थान करेगी और सोमवार को यह धाम यात्रा दंतेवाड़ा पहुंचेगी. इसके बाद दंतेवाड़ा से बारसूर की ओर रवाना होगी जहां सभी मंदिरों के दर्शन कर वापस लौटेगी. दर्शन के बाद दंतेवाड़ा में रात्रि विश्राम होगा, फिर मंगलवार को सुबह दंतेवाड़ा मंदिर परिसर में माता को सलामी देकर उनके दर्शन किए जाएंगे.

उन्होंने बताया कि, इस यात्रा में बड़ी संख्या में संस्था और आदिवासी समाज के सैनिक सम्मिलित हैं. साथ ही संस्था के अध्यक्ष राजमाता फुलवा देवी कांगे और संस्था के उपाध्यक्ष के.डी कांगे भी इस यात्रा में शामिल हैं. उन्होंने बताया कि, करीब बीस बसों और पचास से अधिक चार पहिया वाहनों के साथ यह यात्रा निकाली गई है. दंतेवाड़ा दर्शन के बाद दंतेवाड़ा धाम यात्रा वापस बालोद प्रस्थान करेगी. बुधवार को जगदलपुर चित्रकूट से होते हुए बहीगाव, जिला कोंडागांव में यात्रा का पड़ाव होगा. इसके बाद डोंगरगढ़ दर्शन करते हुए गुरुवार को ग्राम बघमार (मांझिधाम) वापसी की जाएगी.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.