Skip to main content

WPL में केरल की मिन्नू मणि को दिल्ली केपिटल्स ने 30 लाख रू मेंअपनी टीम में शामिल किया

Posted on February 15, 2023 - 3:19 pm by

जब उसने सोमवार रात विमेंस प्रीमियर लीग (WPL) नीलामी का प्रसारण देखा, तो मिन्नू मणि की उम्मीदें धूमिल होने लगीं, जब उसने देखा कि बड़े सितारे भी बिक नहीं रह रहे हैं. तो उसने खुद को कहा कि जब बड़े खिलाड़ियों की अनदेखी की जा रही है तो मुझे कौन खरीदेगा?

इसलिए वह बड़े आश्चर्य में थी जब एक से अधिक फ्रेंचाइजी ने उसमें दिलचस्पी दिखाई. उन्हें दिल्ली कैपिटल्स ने ₹30 लाख में खरीदा. उन्होंने कहा कि यह पैसा बहुत अधिक है, लेकिन मेरे लिए पहचान अधिक मायने रखती है. मिन्नू वर्तमान में सीनियर महिला अंतर-क्षेत्रीय वन-डे टूर्नामेंट में दक्षिण क्षेत्र के लिए खेल रही है.

मिन्नू कहती है कि हालांकि मुझे WPL का हिस्सा बनने की उम्मीद तो थी, लेकिन मैंने नीलामी में जल्दी ही हार मान ली थी. नीलामी में जाने वाली 23 वर्षीय ऑफ स्पिनिंग ऑलराउंडर मिन्नू अच्छी फॉर्म में है. रविवार को उन्होंने हैदराबाद में पश्चिम क्षेत्र के खिलाफ टीम के लिए नाबाद 74 रन बनाए थे. वह नीलामी में चुने जाने वाली केरल की एकमात्र खिलाड़ी हैं.

दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने खरीदा

भारत ने महिला क्रिकेट में एक तरह की क्रांति लाने के लिए विमेंस प्रीमियर लीग (WPL 2023) की शुरुआत 4 मार्च से करने जा रहा है. इस लीग के लिए 13 फरवरी को मुंबई में सभी खिलाड़ियों की बोली लगी और कुछ बड़े खिलाड़ियों पर जमकर पैसा लुटाया गया और करोड़ो में बोली लगी.

वहीं, भारतीय टीम की कुछ ऐसी भी खिलाड़ी रही जिन्हें कोई नहीं जनता था. लेकिन ऑक्शन के बाद वह तुरंत रातों-रात स्टार बन गई हैं. एक ऐसी ही भारतीय खिलाड़ी हैं जिन्हें अब भारत के सभी लोग जानना चाहते हैं. वह कोई और नहीं केरल की आदिवासी क्रिकेटर मिन्नू मणि (Minnu Mani) है. जिन्हें ऑक्शन में उनके बेस प्राइस से तीन गुना ज्यादा में खरीदा गया है.

ऑक्शन में कुछ ऐसे भी बड़ी खिलाड़ी रही जिन्हें कोई खरीददार नहीं मिला. वहीं, केरल की आदिवासी क्रिकेटर मिन्नू मणि को भी यही लग रहा था कि जब कुछ बड़े खिलाड़ियों पर बोली नहीं लगी तब यह उदास हो गई थी उन्हें लगा था कि यह भी अनसोल्ड हो जाएंगी. लेकिन अपनी 10 लाख बेस प्राइज से 30 लाख पर जब उन्हें दिल्ली की टीम ने खरीदा तब उनके खुशी का ठिकाना नहीं रहा.

आसान नहीं रहा है सफर

मिन्नू मणि एक ऐसा नाम जिसने एक छोटे से शहर से दुनिया की सबसे महंगी लीग में खेलने जा रही हैं. हालांकि, उनका क्रिकेट का सफर आसान नहीं रहा है. मिन्नू मणि बचपन से क्रिकेटर बनाना चाहती थी, लेकिन घर की हालात ठीक नहीं होने की वजह से उनको क्रिकेट सीखने में परेशानी हुई. पिता मजदूरी का काम करते थे और मां गृहणी थी. इसके बाद उन्हें क्रिकेट छोड़ने को कहा गया और साथ ही कहा गया कि क्रिकेट लड़कों का खेल है. लेकिन फिर भी मिन्नू मणि ने अपने सपने को पूरा करने के लिए सभी मुश्किलों का सामना किया.

2018 में हुआ घर तबाह

साल 2018 में आए बाढ़ में उनका घर पूरी तरह से तबाह हो गया. लेकिन क्रिकेट खेलकर जो भी पैसा मिलता मिन्नू मणि उसे अपने घर की मरम्मत में लगा देती थी. लेकिन अब 30 लाख में खरीदे जाने पर जब उनसे पूछा गया कि अब आप इन पैसों से कौन सी गाड़ी खरीदेंगी. तब उनका कहना ही कि वह गाडी नहीं एक स्कूटी खरीदना चाहती हैं क्योंकि क्रिकेट प्रैक्टिस के लिए चार बस बदलनी पड़ती है और करीब 2 घंटे लग जाते हैं.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.