Skip to main content

प. बंगाल: डैमेज कंट्रोल करने में जुटी दीदी, आदिवासी चेहरे को बनाया पार्टी जिला अध्यक्ष

Posted on April 10, 2023 - 11:39 am by

तृणमूल कांग्रेस नेतृत्व ने रविवार को दक्षिण दिनाजपुर में पार्टी की महिला शाखा के जिला अध्यक्ष के रूप में एक आदिवासी चेहरे को बनाया. तृणमूल कांग्रेस की ‘दंडवत प्रायश्चित’ मामले को लेकर हो रही आलोचना के कारण हो रहे बदनामी को ढकने के लिए डैमेज कंट्रोल करने की तरह दिख रही है.

तृणमूल ने 9 अप्रैल को स्नेहलता हेम्ब्रम को अपनी जिला महिला कांग्रेस का नया जिला अध्यक्ष नामित किया. उन्होंने प्रदीप्त चक्रवर्ती का स्थान लिया.  प्रदीप्त चक्रवर्ती ने पिछले गुरूवार को भाजपा के लिए तृणमूल छोड़ने के एक दिन बाद चार आदिवासी महिलाओं को पार्टी में वापस लाने का श्रेय लिया था.

सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें बालुरघाट कि आदिवासी महिलाएं मार्टिना किस्कू, शिउली मार्डी, ठाकरन सोरेन और मालती मुर्मू कथित रूप से सड़क पर प्रायश्चित करते दिख रही है. बताया जा रहा है कि ये आदिवासी महिलाएं एक दिन पहले बीजेपी में शामिल होने का प्रायश्चित करने के लिए ये रस्म अदा कर रही थीं.

इस तरह की घिनौनी अनुष्ठान जिला तृणमूल कार्यालय के रास्ते में एक किमी से अधिक दूरी पर किया. इसके बाद चक्रवर्ती ने चारों को पार्टी के झंडे सौंपे.

भाजपा और अन्य विपक्षी दलों ने भाजपा में शामिल होने के लिए आदिवासी महिलाओं को “प्रायश्चित” करने के लिए “मजबूर” करने के लिए तृणमूल की आलोचना की. लेकिन चक्रवर्ती और किस्कू ने कहा कि किसी के साथ जबरदस्ती नहीं की गई.

चक्रवर्ती की जगह हेम्ब्रम पर तृणमूल आदिवासी आबादी का विरोध नहीं करना चाहती थी. साल 2011 की जनगणना के अनुसार बंगाल की कुल आबादी का लगभग 6 प्रतिशत आदिवासी हैं. जिसमें दक्षिण दिनाजपुर में यह आंकड़ा करीब 17 फीसदी है.

इसको लेकर तृणमूल जिलाध्यक्ष मृणाल सरकार ने कहा कि चक्रवर्ती को फिलहाल पार्टी कार्यक्रमों से प्रतिबंधित कर दिया गया है.

भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी ने रविवार को वीडियो पोस्ट किए, जिसमें आदिवासी महिलाओं के कथित प्रायश्चित अनुष्ठान अन्य चार महिलाओं में से एक में खुद को सड़क पर घसीटते हुए देखा जा सकता है. इसको लेकर उन्होंने एससी एसटी एक्ट के तहत इस मुद्दे का संज्ञान लेने के लिए एनसीएसटी के अध्यक्ष हर्ष चौहान से अपील की थी.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.