Skip to main content

बांग्लादेश के आदिवासी विद्रोही समूह के बीच मुठभेड़ में आठ की मौत

Posted on April 7, 2023 - 5:37 pm by

बांग्लादेस के चटगांव पहाड़ियों के शहर में दो आदिवासी समूहों के बीच हुई गोलीबारी में कम से कम आठ लोगों की मौत हो गई. शुक्रवार को यह जानकारी बांग्लादेश पुलिस ने मीडिया को दी.

यह घटना रोनवगंचरी शहर के पास हुई, इस शहर को पिछले साल अक्टूबर महीने से पर्यटकों के लिए बंद है. इसे बांग्लादेश सुरक्षा बलों ने नए उभरे विद्रोही समूह कुकी-चिन नेशनल फ्रंट(KNF) के खिलाफ कार्यवाई के कारण बंद की थी.

इस ऑपरेशन के कारण हजारों आदिवासी उस क्षेत्र से विस्थापित हुए हैं. यहां के आदिवासी इस ऑपरेशन के कारण पूर्वोंत्तर भारत में शरण लेने के लिए सीमा पार कर पहुंचते हैं.

स्थानीय पुलिस प्रमुख तारिकुल इस्लाम ने AFP को बताया कि गुरुवार रात दो प्रतिद्वंद्वी सशस्त्र समूहों के बीच झड़प हुई और अधिकारियों ने शुक्रवार सुबह आठ आदिवासियों के शव बरामद किए.

इस्लाम के अनुसार, “वे बंदूक की लड़ाई में मारे गए.”

नाम न छापने की शर्त पर बात करने वाले एक अन्य जिला पुलिस अधिकारी ने AFP को बताया कि पीड़ित बावम थे, जो एक छोटा ईसाई आदिवासी समुदाय था.

उन्होंने कहा कि वे KNF के संदिग्ध सदस्य थे, जिनकी यूनाइटेड पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट के एक अलग गुट ने गोली मारकर हत्या कर दी.

पिछले महीने बांग्लादेश सेना ने KNF पर उसके एक सैनिक की हत्या करने और दूसरे को घायल करने का आरोप लगाया था.

कुलीन रैपिड एक्शन बटालियन (RAB) पुलिस इकाई भी KNF पर इस्लामी चरमपंथियों को शरण देने और प्रशिक्षण देने का आरोप लगाती है. बांग्लादेश के दक्षिण-पूर्व से गुज़रते हुए चटगाँव की पहाड़ियाँ दो दशक लंबे विद्रोह का स्थल थीं, जिसमें हजारों नागरिक मारे गए थे. साल 1997 के शांति समझौते के साथ संघर्ष आधिकारिक तौर पर समाप्त हो गया, लेकिन पुलिस के अनुसार कम से कम छह सशस्त्र समूह क्षेत्र में काम करना जारी रखे हुए हैं.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.