Skip to main content

झारखंड: आदिवासी प्रतिभाओं का शहरी बाजार

Posted on January 17, 2023 - 11:53 am by

जनजातीय समुदाय को अपने कौशल का प्रदर्शन करने के लिए एक मंच प्रदान करने के लिए झारखंड के औद्योगिक नगरी जमशेदपुर में एक शहरी बाजार स्थल जोहार हाट की शरूआत की गई.

यह जोहार हाट जमशेदपुर शहर के कदमा क्षेत्र में रंकिनी मंदिर के पास स्थित है. जिसमें देश भर के आदिवासी समुदाय अपने स्टॉल लगा सकते हैं. इसका प्रबंधन टाटा स्टील फाउंडेशन द्वारा किया जाता है. यह न केवल आदिवासी कलाकारों को एक मंच देगा बल्कि उनके पाक कौशल को भी उजागर करेगा.

हर महीने एक सप्ताह खुला रहेगा

14 जनवरी को इसका उदघाटन टाटा स्टील के वाइस प्रेसीडेंट चाणक्य चौधरी, सीआर मांझी और बिना पानी के द्वारा किया गया था. हर महीने 14 से 20 तारीख तक यह हाट जनता के लिए खुला रहेगा.

बता दें कि उद्घाटन हाट कार्यक्रम में झारखंड के अलावा अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और छत्तीसगढ़ के कलाकारों ने हिस्सा लिया था. जिसमें आदिवासी कला और संस्कृति पर कार्यशाला भी आयोजन किया गया.

आर्थिक बढ़ावा देगा

फाउंडेशन के निदेशक चाणक्य चौधरी का कहना है कि यह बाजार देश के आदिवासी समुदायों के कलाकारों को अपने कौशल का प्रदर्शन करने के साथ-साथ अपने उत्पादों को बेचने के लिए शहर आने में मदद करेगा. इसके अलावा यह प्रतिभागियों को एक उद्यमशीलता का अनुभव और आर्थिक बढ़ावा भी देगा.

दूसरी ओर शहर के ग्राहक न केवल सीधे कलाकारों से दुर्लभ वस्तुएं खरीद सकेंगे बल्कि उनसे सीधे बातचीत भी कर सकेंगे. चौधरी ने कहा कि आने वाले दिनों में जरूरत पड़ने पर और स्टॉल लगाने के लिए हाट का विस्तार किया जाएगा. वर्तमान में जोहार हाट में केवल आठ स्टॉल हैं.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.