Skip to main content

कैसे गेम चेंजर साबित हो रहा टूरिस्ट ट्राइबल विलेज प्रोग्राम, जानिए

Posted on January 10, 2023 - 12:37 pm by

जम्मू और कश्मीर सरकार द्वारा शुरू किया गया टूरिस्ट ट्राइबल विलेज प्रोग्राम (TTVP)  आर्थिक और सामाजिक रूप से ग्रामीण और साथ ही आदिवासी क्षेत्रों के लिए गेम चेंजर साबित हो रहा है.

मिशन यूथ इनिशिएटिव के तहत जम्मू-कश्मीर टूरिस्ट विलेज नेटवर्क का उद्देश्य केंद्र शासित राज्य के ऐतिहासिक,  सुरम्य सौंदर्य और सांस्कृतिक महत्व के लिए जाने जाने वाले 75 गांवों को पर्यटक गांवों में बदलना है. युवाओं के नेतृत्व में की जा रही स्थायी पर्यटन पहल से ग्रामीण अर्थव्यवस्था और सामुदायिक उद्यमिता को मजबूत होगी. प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलने से युवाओं और महिलाओं को सशक्त बनेंगे.

गांव की विशिष्टता और ट्राइबल नॉलेज

जम्मू और कश्मीर सरकार प्रत्येक गांव की विशिष्टता और परिदृश्य, ट्राइबल नॉलेज सिस्टम, सांस्कृतिक विविधता और विरासत, स्थानीय परंपराओं को पहचानकर प्रदर्शित करेगी.  इसके अलावा फिल्म शूटिंग को प्रोत्साहित करने और वित्तीय प्रोत्साहन देने और सभी के लिए एक डिजिटल प्लेटफॉर्म सुनिश्चित करने का प्रयास करेगी.

हाल ही में एक पर्यटकों का एक दल गांवों की सुंदरता देखने के लिए पहुंचा था. जनजातीय पर्यटन पहल के तहत पुलवामा गांव में एक नींद सांगेरवानी गांव ने एक उत्सव का रूप प्रस्तुत किया गया. इस गांव को हाल ही में जम्मू और कश्मीर सरकार द्वारा टूरिस्ट ट्राइबल विलेज घोषित किया गया था. इस गांव के युवाओं का कहना है कि इससे उनका सामाजिक और आर्थिक उत्थान होगा.

युवा आबादी की क्षमता का दोहन करने और उन्हें आत्मनिर्भर बनाने पर जोर देते हुए, सरकार विभिन्न पृष्ठभूमि के युवाओं को अधिकतम और समान अवसर प्रदान करने और उन्हें प्रभावित करने वाली नीतियों में उनकी भागीदारी को सक्षम बनाने के लिए प्रतिबद्ध है.

ग्लोबल वॉर्मिंग और बेरोजगारी का समाधान

यह योजना एक साथ ग्लोबल वार्मिंग और बेरोजगारी की चुनौती का समाधान कर सकती है. इसके अलावा युवा हरित पर्यटन के लिए ब्रांड एंबेसडर हो सकते हैं, जिससे समुदाय में समृद्धि लाते हुए विकास को और अधिक टिकाऊ बनाया जा सकता है.

प्रशासन आदिवासी समुदायों के समग्र विकास, आदिवासी युवाओं और महिलाओं के बीच उद्यमिता को बढ़ावा देने, आदिवासी स्कूलों को बदलने, ग्राम विकास, पर्यटन और उनके सशक्तिकरण के लिए वन धन को लागू करने के लिए अथक प्रयास कर रहा है.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.