Skip to main content

कर्नाटक चुनाव: जानिए आदिवासियों की चुनाव में स्थिति, आरक्षित सीट कौन से है

Posted on March 29, 2023 - 3:35 pm by

भारत निर्वाचन आयोग ने कर्नाटक विधानसभा चुनावों की तारीख की घोषणा कर दी है. कर्नाटक में चुनाव एक ही चरण विधानसभा चुनाव होगा. 10 मई को चुनाव और 13 मई को मतगणना होगी. कर्नाटक में कुल मतदाताओं की संख्या 5.21 करोड़ है, जिसमें 2.6 करोड़ पुरूष और 2.5 करोड़ महिला मतदाता है. कुल 224 विधानसभा सीटों पर चुनाव होना है.

कर्नाटक में आदिवासी, जनसंख्या और राजनीति

कर्नाटक में कुल 50 आदिवासी समुदाय है, जिसकी जनसंख्या (जनगणना 2011) 42,48,978 है, जो कि कुल जनसंख्या का 6.95 फीसदी है. कुल 224 विधानसभा सीटों में से 15 सीट आदिवासियों के लिए आरक्षित है.

सीटों का जोड़ घटाव

साल 2018 में कांग्रेस और जेडीएस ने मिलकर सरकार बनाई और एचडी कुमारस्वामी मुख्यमंत्री बने थे. करीब 14 महीने बाद ही कांग्रेस और जेडीएस की गठबंधन सरकार गिर गई. बीएस येदियुरप्पा ने कांग्रेस के बागी विधायकों की मदद से भाजपा की सरकार बनाई.

हालांकि, 2 वर्ष बाद येदियुरप्पा को भी मुख्यमंत्री पद छोड़ना पड़ा. भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने राज्य में सीएम बदलने का फैसला किया और बसवराज बोम्मई, बीएस येदियुरप्पा के उत्तराधिकारी चुने गए.

पिछले चुनाव में, कर्नाटक में आदिवासियों के लिए 15 आरक्षित सीटों में से 9 सीट कांग्रेस को मिले थे. वहीं भाजपा को 5 सीट प्राप्त हुई थी. इसके अलावा एक सीट जनता दल को मिली है.

अनुसूचित जनजातियों के लिए आरक्षित सीट

कर्नाटक के विधानसभा में यमकानमर्डी, बेल्लारी, कामप्ली, कुदलिगी, संदूर, सिरूगुप्पा, चल्लाकेरे, मोलकलमुरु, जगलुर, हेगड़ादेवनकोट, देवदुर्गा, मानवी, मस्की, रायचुर ग्रामीण और शोरापुर शामिल है.

भाजपा बेल्लारी से सांसद बी. श्रीरामुलु को स्टार नेता के रूप में प्रस्तुत करने वाली है. श्रीरामुलु नायक जनजाति से संबंध रखते हैं. उन्हें पार्टी के बड़े पोस्टरों और राज्य भर में चुनाव करना शामिल है. श्रीरामुलु दो विधानसभाओं से चुनाव लड़े रहे हैं. जिसमें से एक बदामी में सीएम सिद्धारमैया के खिलाफ है. अगर भाजपा कर्नाटक में सत्ता प्राप्त करती है, तो उपमुख्यमंत्री बन सकते हैं.

बता दें कि पिछली भाजपा सरकारों में वोक्कालिगा जनजाति नेता आर. अशोक और कुरूबा जनजाति नेता केएस ईश्वरप्पा को उपमुख्यमंत्री बनाया गया था.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.