Skip to main content

मध्यप्रदेश: आदिवासी जमीन अवैध कब्जा, पटवारी, व्यापारी के खिलाफ FIR का आदेश

Posted on March 28, 2023 - 12:00 pm by

आदिवासी जमीन अवैध रूप से कब्जा करने पर एसडीएम कोर्ट ने राजोद थाने को मामला दर्ज करने एक आदेश दिया है. जिसमें पूर्व पटवारी और इंदौर के एक व्यापारी पर जाली दस्तावेज बनाकर आदिवासी की जमीन हड़पने के आरोप है. मामला मध्यप्रदेश के धार जिले की सरदारपुर तहसील की है.

शिकायतकर्ता गिरधारी ने एसडीएम कोर्ट में अपनी शिकायत में पूर्व पटवारी और इंदौर के एक व्यापारी पर उनकी जमीन हड़पने का आरोप लगाया. सुनवाई में पाया गया कि पूर्व पटवारी और व्यापारी ने धोखाधड़ी कर जमीन हड़पा था.

सुनवाई के बाद एसडीएम कोर्ट ने गिरधारी के पक्ष में फैसला सुनाया, साथ ही भू-राजस्व विभाग को भू-अभिलेख दुरुस्त करने का आदेश दिया. फैसले के आधार पर राजोद पुलिस ने व्यापारी और पूर्व पटवारी के खिलाफ मामला दर्ज किया. साथ ही इस मामले में उप पंजीयक कार्यालय की भूमिका की जांच की जाएगी.

एसडीओ राहुल चौहान ने जानकारी देते हुए बताया कि गिरधारी ने मप्र भू-राजस्व संहिता 1959 की धारा 170 (ए) (बी) के तहत एसडीएम कोर्ट में इस आशय का आवेदन दिया था, कि सर्वे नंबर 11 व 2.268 पर जमीन का पूरा क्षेत्रफल है. बदनावर निवासी रखबचन्द्र जैन के पुत्र विक्रेता राममल से विक्रय मूल्य अदा कर 5 दिसम्बर 2011 को रजिस्ट्री सेल डीड के माध्यम से हेक्टेयर की खरीद की गई थी. लेकिन अभिलेखों में जमीन महेश सोनी के नाम दिखाई गई.

मामले की पूरी सुनवाई राजस्व न्यायालय में हुई, जहां दोनों पक्षों को सुनने के बाद एसडीएम ने गिरधारी के पक्ष में फैसला सुनाया. राजोद थाना प्रभारी रोहित कच्छवा ने बताया कि एसडीएम कोर्ट से प्राप्त आदेश सहित पत्र के आधार पर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी गयी है. एक जांच चल रही है. जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.