Skip to main content

मध्य प्रदेश: आदिवासी नेता को बेईमान व गद्दार बोलना कांग्रेस प्रत्याशी को शोभा नहीं देता: मोहन यादव

Posted on April 2, 2024 - 1:36 pm by
मध्य प्रदेश: आदिवासी नेता को बेईमान व गद्दार बोलना कांग्रेस प्रत्याशी को शोभा नहीं देता: मोहन यादव

छिंदवाड़ा जिले के अमरवाड़ा से विधायक कमलेश शाह के बीजेपी में शामिल होने पर कांग्रेस प्रत्याशी नकुलनाथ का बयान सामने आया था. जिसमें उन्होंने कमलेश शाह को बेईमान व गद्दार कहा था. कांग्रेस प्रत्याशी नकुलनाथ के इस बयान पर मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने आपत्ति जताते हुए कहा कि, कमलनाथ के सांसद बेटे और छिंदवाड़ा से कांग्रेस प्रत्याशी नकुलनाथ को कमलेश शाह के बारे में इस प्रकार बोलना शोभा नहीं देता है.

मुख्यमंत्री ने कहा, आदिवासी भाइयों का अपमान करना कांग्रेस और कांग्रेस नेताओं की पुरानी आदत है. कांग्रेस ने जनजातीय समाज को हमेशा वोट बैंक समझा और विकास से उन्हें दूर रखा. उन्होंने आगे कहा, कमलनाथ छिंदवाड़ा में एक्सपोज हो चुके हैं. कमलनाथ ने छिंदवाड़ा का विकास करने की बजाय अपने परिवार का विकास किया है.

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव यह बात प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा द्वारा छिंदवाड़ा महापौर विक्रम अहाके व अन्य कांग्रेस नेताओं को पार्टी की सदस्यता दिलाते हुए कही. उन्होंने कहा कि छिंदवाड़ा में कमलनाथ ने बहुत गडबड़ की है और नकुलनाथ ने आदिवासी भाइयों का अपमान किया है. गौंड समाज के अमरवाड़ा विधायक कमलेश शाह को बेईमान और गद्दार बोलने से आहत होकर छिंदवाड़ा के महापौर विक्रम अहाके सहित कांग्रेस पदाधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है.

वहीं छिंदवाड़ा के महापौर विक्रम अहाके ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने आदिवासी समाज को कभी सम्मान नहीं दिया. जनजातीय समाज को कांग्रेस ने सिर्फ वोट बैंक समझा. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश और मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के नेतृत्व में मध्यप्रदेश तेजी से आगे बढ़ रहा है.

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने आगे कहा, कमलनाथ के प्रति छिंदवाड़ा की जनता एवं जनप्रतिनिधियों में भारी आक्रोश है. छिंदवाड़ा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गरीब कल्याण की योजनाओं का गढ़ है और अब जनता ने तय कर लिया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में छिंदवाड़ा में भी कमल का फूल खिलेगा.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.