Skip to main content

मध्यप्रदेश: आदिवासी बच्ची से गैंगरेप केस में 3 आरोपियों को उम्र कैद, एक साल के भीतर फैसला

Posted on March 18, 2023 - 5:08 pm by

मध्यप्रदेश के श्योपुर के बहुचर्चित आदिवासी नाबालिग बालिका के साथ गैंगरेप के मामले में अदालत ने फैसला सुनाते हुए 3 आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. जिला एवं सत्र न्यायाधीश प्रदीप मित्तल की अदालत ने आरोपियों पर 10-10 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है.

विशेष बात यह है कि श्योपुर पुलिस और प्रशासन ने इस मामले को सनसनीखेज एवं चिंहित अपराधों की सूची में रखा था.

क्या है पूरा मामला

मामले के अनुसार ठीक एक साल पहले 17 मार्च 2022 को पीड़ित युवती अपने दोस्तों के साथ मोटरसाइकिल से कालीतलाई के जंगल की तरफ जा रहे थे, तभी उनकी मोटरसाइकिल पंक्चर हो गई. इस दौरान जंगल में मिले तीन आरोपियों ने युवती को अलग ले गए और उसके दोस्त को अलग ले गए. इसके बाद तीनों ने युवती के साथ सामुहिक दुष्कर्म किया.  

घटना सनसनीखेज अपराध की श्रेणी में रख देहात थाना पुलिस ने तत्काल कार्रवाई कर आरोपियों को गिरफ्तार कर विवेचना के बाद न्यायालय में चालान पेश किया.

जिला न्यायालय ने सभी पक्षों को सुनते हुए गवाहों के बयानों और सबूतों के आधार पर तीन आरोपीगण रियाज, शहबाज और मोहसिन को दोषी पाते हुए धारा 376 डी के तहत आजीवन कारावास और 10-10 हजार रुपए के अर्थदंड की सजा से दंडित किया गया है.

विशेष लोक अभियोजक का यह भी कहना है कि आरोपियों को फांसी देने की सजा दिए जाने की गुहार लगाई गई थी, जिस पर से आरोपियों को जीवन की अंतिम सांस तक कारावास दिया गया है.

बता दें कि इस घटना के बाद इलाके में गहरा आक्रोश व्याप्त हो गया था और लोग यूपी की तर्ज पर अपराधियों के अवैध मकानों पर बुलडोजर चलाने की मांग करने लगे थे. जिसके बाद सरकार से हरीझंडी मिलने के बाद 20 मार्च 2022 को पुलिस प्रशासन ने गैंगरेप की वारदात को अंजाम देने वाले तीनों आरोपियों के अवैध मकानों और जमीनों पर बुलडोजर चलाकर बड़ी कार्रवाई भी की थी.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.