Skip to main content

मध्यप्रदेश: आदिवासी ने वापस मांगी अपनी जमीन, एसडीएम ने कहा जांच जारी

Posted on November 20, 2022 - 11:00 am by

मध्य प्रदेश में पेसा अधिनियम के कार्यान्वयन के लिए राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के नेतृत्व में पहल की गई है. बावजूद इसके शहडोल जिले में  जमुआ गांव के रहने वाले सोहन बैगा जमीन वापसी की मदद के लिए दर-दर भटक रहे हैं. सोहन बैगा की जमीन को  एक कार शोरूम के मालिक ने हड़प लिया है.

द फ्री प्रेस जनरल के रिपोर्ट अनुसार सोहन बैगा ने 30 अक्टूबर को जनता दरबार के दौरान लिखित तौर पर एडीजीपी(Additional director general of police) से शिकायत दर्ज की थी. जिसमें उन्होने बताया था कि एक व्यापारी ने उनकी पुस्तैनी जमीन पर कब्जा कर लिया है.

बैगा ने यह भी कहा कि राजस्व अधिकारियों ने व्यवसायी को उसकी जमीन का कब्जा दिलाने के लिए राजस्व रिकॉर्ड से छेड़छाड़ की है. बैगा ने कहा कि उनकी पुश्तैनी जमीन जमुआ गांव में राजेश गुप्ता की शुभ मोटर्स के पास है. उन्होंने कहा कि गुप्ता ने एक और कार शोरूम स्थापित करने के लिए उनकी जमीन हड़प ली. गुप्ता के पैसे और संपत्ति से प्रभावित होकर  ग्राम पंचायत के सरपंच और सचिव ने मेरी मदद नहीं की. इसके बजाय  उन्होंने गुप्ता को जमीन पर कब्जा करने के लिए एनओसी जारी कर दी.  बैगा ने सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज कराई है जहां कार्रवाई का इंतजार है.

इस बीच  गुप्ता ने बैगा द्वारा किए गए सभी दावों का खंडन किया है. संपर्क करने पर  सोहागपुर एसडीएम प्रगति वर्मा ने कहा कि आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया था और मामले की जांच की जा रही है. बैगा के परिजनों ने राजस्व अधिकारियों पर मामले में कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया है. वहीं शहडोल एसडीएम के अनुसार बैगा की जमीन पर हो रहे निर्माण कार्यों पर रोक लगा दी गयी है. साथ ही मामले में जांच की जा रही है.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.