Skip to main content

महाराष्ट्र: गढ़चिरौली में नक्सलियों ने एक आदिवासी छात्र को पुलिस का मुखबिर बता की हत्या

Posted on March 14, 2023 - 5:04 pm by

महाराष्ट्र के उग्रवाद प्रभावित गढ़चिरौली में प्रतिबंधित भाकपा-माओवादी के हथियारबंद कैडरों द्वारा मुखबीर बता एक आदिवासी छात्र की हत्या की गई थी. छात्र सरकारी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा था. हत्या किए जाने के बाद पढ़ाई के लिए गांव से बाहर रहने वाले नरगुंड क्षेत्र के छात्रों में भय की भावना व्याप्त है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार गढ़चिरौली के नरगुंड थाना क्षेत्र के मरुधर टी निवासी युवक साईनाथ नरोटे (26) जिला मुख्यालय में रहकर सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहा था. वह हाल ही में होली के त्योहार के लिए अपने गांव लौटा था जब माओवादियों ने उसे बेरहमी से मार डाला.

यह घटना तब हुई जब साईनाथ एक स्थानीय जंगल के रास्ते से गुजर रहा था, जब माओवादियों ने उसके बारे में जाना और उसका अपहरण कर लिया, बताया गया है कि सादे कपड़ों में प्रतिबंधित भाकपा के लगभग 6 से 7 कैडर उसे जंगलों में ले गए और उसकी गोली मारकर हत्या कर दी.

नक्सलियों ने पुलिस का मुखबिर होने का आरोप लगाकर युवक की हत्या कर दी, जिसके बाद देर रात शव को गांव के पास फेंक कर जंगल में भाग गए. सुबह ही ग्रामीणों ने घटना की सूचना स्थानीय पुलिस को दी, जिसने बाद में शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया.

इससे पहले होती रही है हत्याएं

बता दें कि कि पिछले कुछ वर्षों में माओवादियों ने छत्तीसगढ़ के माओवादी प्रभावित क्षेत्रों में जानबूझकर दर्जनों नागरिकों और छात्रों को पुलिस का मुखबिर बताकर उन्हें निशाना बनाया और हत्या की गई.

उपलब्ध आँकड़ों के अनुसार केवल वर्ष 2022 में ही तीन दर्जन से अधिक नागरिकों को प्रतिबंधित भाकपा-माओवादियों के कैडरों द्वारा बेरहमी से हत्या की गई. इनमें किसानों और छात्रों की निर्मम हत्याएं शामिल हैं.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.