Skip to main content

नागालैंड: आदिवासियों ने मनाया आजादी का अमृत महोत्सव

Posted on October 27, 2022 - 3:17 pm by

नागालैंड के दीमापुर में कला और संस्कृति विभाग ने आजादी का अमृत महोत्सव मनाया गया. इस आयोजन को कला और संस्कृति निदेशालय  कोहिमा के एम्फीथिएटर में आदिवासी महोत्सव  का आयोजित किया था. नागालैंड के कोहिमा जिले के 15 आदिवासी सांस्कृतिक मंडलों ने अपने-अपने लोक नृत्य और गीत प्रस्तुत किए.  नागालैंड में जनजातीय महोत्सव के आयोजन में राज्य के 10 जिलों के 10 आदिवासी त्योहारों शामिल किया गया था.

कला एवं संस्कृति एवं पर्यटन सलाहकार खेहोवी येप्थोमी ने देश की आजादी के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले स्वतंत्रता सेनानियों को याद करने के लिए आजादी का अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में आदिवासी महोत्सव आयोजित पर विभाग को धन्यवाद दिया.

येप्थोमी ने बताया कि विभिन्न बोलियों और परंपराओं के साथ नागा लोगों की एक समृद्ध और अनूठी संस्कृति है. उन्होंने जोर देकर कहा कि इस अनूठी परंपरा और संस्कृति की रक्षा के लिए सभी को प्रयास करना चाहिए. हम ऐसे समाज में रहते हैं जहां हमें अपनी पहचान और संस्कृति को खोने का खतरा है. सभी को एक दूसरे को प्रोत्साहित करना चाहिए और इस तरह के आयोजन कर युवा पीढ़ी को ‘हमारी संस्कृति’ सिखाना चाहिए. नागालैंड के विभिन्न जिलों में सांस्कृतिक क्लब बनाने और सांस्कृतिक आदान-प्रदान कार्यक्रम आयोजित करने का भी आह्वान किया.

येप्थोमी ने आगे कहा कि नागालैंड सरकार ने समृद्ध नागा संस्कृति को बढ़ावा देने और संरक्षित करने के लिए हॉर्नबिल महोत्सव, मिनी हॉर्नबिल त्योहारों और आदिवासी त्योहारों की शुरुआत की है. येप्थोमी ने लोगों से इस तरह के आयोजनों को जीवन का एक तरीका बनाने का आग्रह किया.  न कि सिर्फ एक बार के कार्यक्रम को.

कला और संस्कृति सचिव एथेल ओ लोथा ने कहा कि नागा कलात्मक लोग हैं. जिनकी रंगीन संस्कृति है. जो नागाओं के शुरुआती रचनात्मक अनुभव का प्रतिनिधित्व करती है. ये रचनात्मक गतिविधियाँ भौतिक पहलुओं में पाई जाती हैं जो लोक नृत्यों और लोक गीतों में परिलक्षित होती हैं. भले ही नागाओं की सांस्कृतिक प्रथाएं समान हैं,  फिर भी प्रत्येक जनजाति के लिए विशिष्ट विशेषताएं हैं. इस प्रकार का त्योहार सूचना के एक विश्वसनीय स्रोत के रूप में काम करेगा और नागाओं की समृद्ध संस्कृति को पुनर्जीवित करेगा.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.