Skip to main content

झारखंड में श्रद्धा जैसा हत्याकांड, शादी के बाद आदिवासी युवती की लाश 12 टुकड़ों में मिली

Posted on December 18, 2022 - 11:55 am by

झारखंड में साहिबगंज जिले के बाेरियो में रोंगटे खड़ी करनेवाली घटना सामने आयी है. यहां 22 वर्ष की आदिम जनजाति महिला को कटर से 12 टुकड़ों में काट डालने का मामला सामने आया है. मृतक महिला का नाम रबिता पहाड़ीन है. यह महिला बोरियो थाना क्षेत्र के गोंडा पहाड़ की रहनेवाली थी. वह शादी के बाद पति दिलदार अंसारी के साथ बेलटोला स्थित घर पर रहती थी. दिलदार को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है.

रबिता पहाड़िया


बोरियो थाना प्रभारी जगरनाथ पान के अनुसार महिला का क्षत-विक्षत शव शनिवार शाम 6:00 बजे बोरियो थाना क्षेत्र के संथाली मोमिन टोला स्थित एक पुराने बंद घर और उसके बाहर से 12 टुकड़ों में बरामद किया गया है. हालांकि, महिला का सिर और शरीर के कुछ अंग अब तक बरामद नहीं किये गये हैं. मौके पर साहिबगंज के एसपी अनुरंजन किस्पोट्टा और चिकित्सकों की टीम भी पहुंच गयी है. चिकित्सक यह देख रहे हैं कि महिला की गर्दन से ऊपर के हिस्से के अलावा शरीर का और कौन-कौन से भाग गायब हैं.
मृतक महिला की पहचान उसके पति दिलदार अंसारी (25 वर्ष) ने की है.

रबिका को दूसरी पत्नी बनाया था दिलदार

पुलिस के अनुसार, रबिता पहाड़िन दिलदार अंसारी की दूसरी पत्नी थी. मामले में बोरियो पुलिस दिलदार को हिरासत में लेकर देर रात पूछताछ कर रही थी. शनिवार शाम 6:00 बजे मोमिन टोला में नवनिर्मित आंगनबाड़ी केंद्र के पीछे से महिला का पैर कुत्तों द्वारा नोचते ग्रामीणों ने देखा. इसके बाद बोरियो पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस छानबीन करते हुए एक बंद पड़े पुराने घर में गयी, जहां से टुकड़ों में महिला का शव मिला. प्रथम दृष्टया पुलिस अनुमान लगा रही है कि महिला की हत्या के बाद उसके शव को इलेक्ट्रीक कटर जैसी किसी धारदार चीज से काटा गया है. हालांकि, यह जांच का विषय है.


दिल्ली में हुई थी इसी तरह की हत्याकांड


दिल्ली में महरौली के छतरपुर इलाके में किराये के मकान में लिव इन में रह रहे आफताब पूनावाला ने झगड़े के बाद अपनी लिव इन पार्टनर श्रद्धा वॉल्कर की बेहरमी से हत्या कर दी थी. इसके बाद उसने श्रद्धा के शव के 35 टुकड़े किये और उन टुकड़ों को 18 दिनों तक फ्रिज में रखा. वह धीरे-धीरे शव के टुकड़ों को जंगल में फेंकता रहा. मुंबई में एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम करने के दौरान दोनों के बची बीच प्यार हुआ. बाद में परिवारवालों के एतराज जताने पर दोनों दिल्ली आकर रहने लगे थे.

आदिवासी मामलों में केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने इस मामले पर ट्वीट कर कहा,”

ये तो पराकाष्ठा ही है ! आज झारखंड में न हमारी बेटियां सुरक्षित है न जमीन. योजनाबद्ध तरीके से उन्हें फंसा कर षड्यंत्र रचा जा रहा है और हेमंत सरकार मूक दर्शक बनी हुई है. राज्य सरकार की तुष्टिकरण की नीति अब आदिवासियों पर सबसे अधिक पड़ रहा है. एक समुदाय विशेष के लोग,घुसपैठिये ज़मीन हड़पने और जनजातियों का प्रभुत्व ख़त्म कर संताल-पहाड़िया को ही वहाँ अल्पसंख्यक बना रहे हैं. इस मामले की गहन जांच हो और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई हो.”

बोरियो में एक आदिम जनजाति महिला का शव कई टुकड़ों में बरामद किया गया है. उसका गर्दन से ऊपर का हिस्सा सहित शरीर के कुछ अन्य हिस्से अब तक नहीं मिले हैं. चिकित्सक इसकी जांच कर रहे हैं. मामले में मृतक के पति दिलदार अंसारी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. मृतका दिलदार की दूसरी पत्नी थी.

  • अनुरंजन किस्पोट्टा, एसपी, साहिबगंज

No Comments yet!

Your Email address will not be published.