Skip to main content

तमिलनाडु:  जनजातीय बैठक में अनुसूचित जाति के लिए अलग विभाग की मांग

Posted on February 27, 2023 - 11:40 am by

तमिलनाडु ट्राइबल नोमैड्स फेडरेशन(Tamilnadu Nomads Federation) द्वारा मदुरै में आयोजित एक आदिवासी सम्मेलन ने राज्य सरकार से अनुसूचित जनजातियों की समस्याओं के समाधान के लिए एक अलग विभाग बनाने का आग्रह किया है.

फेडरेशन के संस्थापक आर माहेश्वरी ने कहा कि अनुसूचित जनजाति और अनुसूचित जाति के लिए सरकार का एक आकार-फिट-सभी दृष्टिकोण काम नहीं करेगा क्योंकि उनकी समस्याएं अलग हैं.

उन्होने आगे कहा कि अनुसूचित जातियों के लिए अपनी पहचान व्यक्त करना एक समस्या है, जबकि अनुसूचित जनजातियों के लिए अपने समुदाय की पहचान करना अब एक मुद्दा है. उन्होंने कहा कि जनजातियों को राज्य में एक सफल नेता की जरूरत है जो अपनी समस्याओं को सरकार तक पहुंचा सके और इस तरह के सम्मेलन नेता को सामने लाने के लिए होते हैं.

द अमेरिकन कॉलेज में आयोजित होने वाले सम्मेलन में 75 जनजातीय संघों ने भाग लिया. यह बताते हुए महेश्वरी ने कहा कि उन्होंने पहली बार अपने आम एजेंडे पर चर्चा करने के लिए पहाड़ियों और मैदानी जनजातियों से एक जगह पर मुलाकात की है. बैठक में एक अलग विभाग बनाने की मांग के अलावा नौ अन्य मांगों को राज्य और केंद्र सरकारों के सामने रखा गया. उनमें एक उचित आदिवासी जनसंख्या जनगणना, सामुदायिक प्रमाण पत्र प्रदान करने में मुद्दों का सुधार, सामुदायिक प्रमाण पत्र ऑनलाइन तक पहुंच, प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए सरलीकृत सत्यापन प्रक्रिया और वन अधिकार अधिनियम 2006 में सुधार शामिल हैं.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.