Skip to main content

तेलंगाना:  पिछली सरकारों ने आदिवासियों पर कभी ध्यान नहीं दिया

Posted on December 21, 2022 - 12:18 pm by

पिछली सरकारों ने आदिवासी समुदायों के विकास को नजरअंदाज किया.  लेकिन जब से के चंद्रशेखर राव मुख्यमंत्री बने हैं.  इसके विपरीत  आदिवासियों पर ध्यान दिया जा रहा है –  जनजातीय कल्याण मंत्री सत्यवती राठौड़ ने कहा. 20 दिसंबर को वारंगल जिले के संगम मंडल के तहत बीकोजी नाइक थंडा और बालू नाइक थंडा के बीच 2.68 करोड़ रुपये की बीटी सड़क का शिलान्यास कर रहे थे.

तेलंगाना में 24 घंटे बिजली मिलती है

मंत्री ने कहा कि सरकार ने ग्रामीण लोगों की सुविधा के लिए सभी आंतरिक क्षेत्रों में सड़कों के निर्माण पर जोर दिया है. करीब 3,146 आदिवासी थंडा को ग्राम पंचायतों में अपग्रेड किया गया है और आदिवासी समुदायों को सशक्त बनाया गया है. इसके अधिक विकास के साथ  तेलंगाना में आदिवासियों को सम्मान और आत्मनिर्भरता प्राप्त करने के लिए अच्छी तरह से रखा गया है.” तेलंगाना देश का एकमात्र राज्य है जो निर्बाध 24X7 बिजली आपूर्ति प्राप्त करता है. ऐसी सुविधा न तो गुजरात और न ही दिल्ली के पास है.

राठौड़ ने कहा कि बीआरएस सरकार के खिलाफ आधारहीन आरोप लगाने के बजाय  भाजपा और कांग्रेस के नेता अपने अंदर झांके कि क्या उनके शासन वाले राज्य तेलंगाना सरकार की तरह कल्याणकारी और विकासात्मक कार्यक्रम लागू कर रहे हैं.

राष्ट्रीय पार्टियां गुमराह न करें

तेलंगाना जो बुजुर्ग लोगों, एकल महिलाओं, बीड़ी रोलर्स, शारीरिक रूप से विकलांग आदि को आसरा पेंशन प्रदान कर रहा है. कल्याण लक्ष्मी, शादी मुबारक अन्य राज्यों के लिए एक प्रकाश स्तंभ बन गया है.

उन्होंने कहा कि भाजपा गलत सूचना फैलाकर तेलंगाना के लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रही है. लेकिन जो लोग राज्य के घटनाक्रम को करीब से देख रहे हैं, उन्हें भाजपा और कांग्रेस पर विश्वास नहीं होगा.

उन्होने कहा कि सरकार रायथु बंधु के तहत वित्तीय सहायता जारी करने वाली है, ऐसे में किसान निजी फाइनेंसरों से संपर्क न करें. मौके पर परकल विधायक छल्ला धर्म रेड्डी, वारंगल जिला कलेक्टर बी गोपी, अतिरिक्त कलेक्टर अश्विनी तानाजी वाकडे और सरपंच विद्या रानी सहित अन्य उपस्थित थे.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.