Skip to main content

महाराष्ट्र: आदिवासियों में बाल विवाह की दर बढ़ी, 16 साल से कम उम्र में बन रही है मां

Posted on March 21, 2023 - 3:28 pm by

महाराष्ट्र के महिला एवं बाल विकास मंत्री मंगल प्रभात लोढ़ा ने विधान परिषद को बताया कि महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के 16 आदिवासी बहुल जिलों में पिछले तीन वर्षों में 15,253 किशोर माताओं के आंकड़े दखने को मिले हैं.

मंत्री बाल विवाह पर एक सवाल का जवाब दे रहे थे, जो भारत में एक अपराध है.

लोढ़ा ने एक लिखित जवाब में कहा कि पिछले तीन सालों में महाराष्ट्र के 16 आदिवासी जिलों में 18 साल से कम उम्र की गर्भवती लड़कियों की संख्या 15,253 पाई गई.

यह जानकारी विभाग ने इकट्ठा करने के लिए तीन सदस्यीय समिति का गठन किया है.

यह पूछे जाने पर कि क्या राज्य ने पिछले तीन वर्षों में 15,000 से अधिक बाल विवाह की सूचना दी है और क्या यह 10 प्रतिशत भी रोक सकता है,  लोढ़ा ने अपने लिखित उत्तर में कहा कि यह “आंशिक रूप से” सच है.

मंत्री ने कहा कि बाल विवाह कुछ जनजातियों में परंपराओं का हिस्सा है क्योंकि ऐसे मामलों की पहचान करना मुश्किल हो जाता है.

मंत्री ने स्वीकार किया कि राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण के अनुसार केरल की तुलना में महाराष्ट्र में बाल विवाह की अधिक घटनाएं हुई हैं.

लोढ़ा ने कहा कि 2019 से 2021 के बीच बाल विवाह निषेध अधिनियम के तहत 152 आपराधिक मामले दर्ज किए गए हैं, जिनमें से 136 अदालत में हैं.

(फोटो का प्रयोग प्रतिकात्मक रूप से की गई है)

No Comments yet!

Your Email address will not be published.