Skip to main content

आदिवासी युवती का नासा के प्रोजेक्ट के लिए चयन?

Posted on October 2, 2022 - 6:09 am by

छत्तीसगढ़ के जिला महासमुंद में नयापारा के स्वामी आत्मानंद शासकीय इंग्लिश मिडियम स्कूल की कक्षा 11वीं की छात्रा रितिका ध्रुव का नासा के सिटीजन साईंस प्रोजोक्ट के अंतर्गत क्षुद्रग्रह खोज के लिए हुआ है। नासा का यह प्रोजेक्ट इसरों के साथ अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय खोज सहयोग कार्यक्रम के अंतर्गत साझेदारी का हिस्सा है। सोसाईटी फॉर स्पेस एजुकेशन रिसर्च एवं डेवलपमेंट ने छुद्र ग्रह खोज अभियान की प्रक्रिया के माध्यम से छात्रों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। इस प्रोजेक्ट के लिए देश भर से छह स्कूली विद्यार्थियों को चुना गया है। इसमें छत्तीसगढ़ के सिरपुर के रहने वाली स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल की छात्रा रितिका ध्रुव भी शामिल है।


छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेम सिंह टेकाम ने रितिका की इस उपलब्धि पर उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

https://twitter.com/MahasamundDist/status/1576432084880457728?t=wH9xkm2NBw3rvCt_e4ocXg&s=19


स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मिडियम के शिक्षकों के अनुसार की छात्रा रितिका ध्रुव बचपन से ही विज्ञान के प्रति रूचि रखती है। कक्षा 8वीं पहली बार रितिका ने अंतरिक्ष प्रश्नोत्तरी कंपीटिशन में भाग लिया था। इसके बाद से हमेंशा विज्ञान संबंधी गतिविधियों में भाग लेती रही है। नासा के प्रोजेक्ट के लिए आवेदन आमंत्रित किया गया, तब रितिका ने भी निर्धारित प्रारूप के रूप में आवेदन करते हुए अपना प्रोजेक्ट रखा। चयन के स्तरों में सबसे पहले उन्होने बिलासपुर में विषय संबंधी प्रश्नोत्तरी स्पर्धा में हिस्सा लिया और इसके बाद भिलाई स्थित आईआईटी में अपनी प्रस्तुति दी। फिर जाकर रितिका को इसरों के श्री हरिकोटा (आंध्रप्रदेश) सेंटर में प्रशिक्षण के लिए आमंत्रित किया। इस प्रोजेक्ट के लिए रितिका के साथ देश के छह अन्य स्कूली विद्यार्थियों का चयन हुआ है। जिनमे वोरा विघ्नेश (आंध्रप्रदेश), वेम्पति श्रीयेर(आंध्रप्रदेश), ओलविया जॉन(केरल), के. प्रणीता(महाराष्ट्र) शामिल हैं। इन विद्यार्थियों ने अंतरिक्षव के वैक्युम में ब्लैक हाल से ध्वनि खोज विषय पर एक प्रस्तुति दी थी। इसमें रितिका ने अपने स्कूल का प्रतिनिधित्व करते हुए, बेहतर प्रदर्शन किया। जज के पैनल में बिलवर्ड (नासा), डॉ. जोनाथ (इसरो) और डॉ. ए. राजराजन (सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र) शामिल थे। रितिका का प्रशिक्षण 1 से 6 अक्टूबर तक सतीश धवन स्पेस सेंटर श्री हरिकोटा, आंध्रप्रदेश में कर रही है, इसके दूसरे चरण में प्रशिक्षण नवंबर में बैंगलुरू इसरों में क्षुद्रग्रह प्रशिक्षण शिविर में हिस्सा लेंगी।

No Comments yet!

Your Email address will not be published.