Skip to main content

छत्तीसगढ़: भालू के अचानक हमले से आदिवासी नेता की मौत

Posted on October 25, 2022 - 12:03 pm by

छत्तीसगढ़ के कांकेर जिला में एक आदिवासी नेता पर तीन भालू मौत बनकर टूटे. वह गाय चराकर वापस घर आ रहा था. इतने में भालू ने आदिवासी नेता पर हमला कर कर दिया. उसे बेरहमी से तीनों भालुओं ने मार डाला. सूचना मिलने के बाद पुलिस और वन विभाग की टीम ने शव बरामद कर लिया है. उसे ऑटोप्सी के लिए भेजा गया है. मौत से परिवार में मातम का माहौल है.

घर लौटने के दौरान हुई घटना

यह घटना भानुप्रतापपुर के परतापुर थाना अंतर्गत उरपांजुर गांव में हुई है. गणेश ध्रुव मवेशी चराने के लिए जंगल में गए हुए थे. जंगल से वापस लौटने के दौरान एक मादा भालू और दो शावकों ने गणेश पर हमला किया था. इसी दौरान अचानक भालुओं के हमले से संभलने का मौका नहीं मिला. इसके कारण गणेश ध्रुवा बूरी तरह से घायल हो गया. जिसमें खोपड़ी को नोंच-नोंचकर फाड़ दिया गया. पैर को भी काट डाले हैं. जिसके कारण काफी देर तक तड़पते रहे और अंत में उनकी मौत हो गई.

गोंडवाना समाज बड़गांव के नेता थे गणेश

गणेश ध्रुवा गोंडवाना समाज बड़गांव सर्कल अध्यक्ष थे तथा गांव में मवेशी चराने का काम करते थे.  

वन विभाग ने अलर्ट किया जारी

आदिवासी नेता गणेश ध्रुव को तीन भालूओं के द्वारा हत्या के बाद वन विबाग ने अलर्ट जारी किया है. भालू ने उनका माथा नोच डाला था व पैर काट डाला था. जिसके कारण गणेष काफी देर तक तड़पते रहे. और अंत में दम तोड़ दिया. मौत के बाद गांव में दहशत का माहौल है. भालूओं को उस क्षेत्र से हटाने का प्रयास किया जा रहा है.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.