Skip to main content

मध्यप्रदेश: गैर आदिवासी युवक से विवाह पर आदिवासी संगठनों को आपत्ति

Posted on October 18, 2022 - 5:08 pm by

साजिद अमीन

मध्य प्रदेश के हरदा जिले के टेमगांव का एक मामला सामने आया है. जिसमें एक आदिवासी युवती ने घर से भागकर गैर आदिवासी युवक से शादी कर ली. जिस पर आदिवासी संगठनों ने आपत्ति जतायी है. दरअसल युवक और युवती ने आर्य समाज में विवाह किया है, जिसको लेकर आदिवासी संगठनों का कहना है कि वे इस विवाह को अमान्य मानते हैं. बता दें कि आदिवासियों के विवाह में हिंदू बिल कोड लागू नहीं होता है।

सामाजिक संगठनों ने संयुक्त कलेक्टर डीके सिंह को ज्ञापन सौंपा है. और प्रशासन से युवती को उसके परिजनों को सौंपने की मांग की है.

जयस जिला प्रवक्ता जय कुमार ऊईके ने कहा कि रहटगांव थाना क्षेत्र के रहने वाली एक आदिवासी युवती ने अमन जैसवाल नामक युवक से आर्य समाज रीति रिवाजों से विवाह किया है जो आदिवासी समाज के संविधान और परम्परा के खिलाफ है. इसका निर्णय हमारे समाज के लोगों ने ग्रामसभा में लिया है कि आदिवासी समाज की युवती का शादी सिर्फ आदिवासी समाज में ही होगा. यह हमारे पंचायत के पटेल का फैसला है जिससे सभी ने माना है. युवती ने जो गैर आदिवासी से विवाह किया है वह हमें मान्य नहीं है. इसको लेकर हम विरोध जता रहें है.

रहटगांव का थाना प्रभारी मनोज ऊईके के अनुसार युवक-युवती बालिग है. दोनों ने विवाह किया है और एक दुसरे के साथ रहने के इच्छुक है. इन्हें भारतीय कानुन के तहत साथ रहने से नहीं रोक सकते है.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.