Skip to main content

आंध्र प्रदेश: पहाड़ी गांवों में आदिवासी पी रहे हैं गंदा पानी, हो रहे बीमार

Posted on April 8, 2023 - 2:08 pm by

आंध्र प्रदेश के अल्लुरी जिले में पीटीजी कोंध के आदिवासी पहाड़ी गांवों में गंभीर जल संकट का सामना कर रहे हैं. इसको लेकर जी मदुगुला मंडल की गडुटुदुर पंचायत में नेरेदुबंधा की आदिवासी महिलाओं ने 7 अप्रैल को पीने योग्य पानी की आपूर्ति की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया. आदिवासियों को पहाड़ी से निकलने वाले पानी पीने को मजबूर होना पड़ता है. गंदे पानी को पीकर आदिवासी बीमार पड़ रहे हैं.

नेरेदुबंधा के दिप्पला चिलकम्मा और किलो राधम्मा का कहना है कि बीमार लोगों को डॉलियों में भरकर कोथकोटा के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तक ले जाने के लिए मजबूर होना पड़ता है. स्वास्थ्य केंद्र उनके गांव से 15 किमी दूर है. इसके अलावा सड़क इतनी खराब है कि गाड़ी नहीं जा सकती है. उन्होंने कहा कि गर्मी में तापमान बढ़ने के बाद जल स्रोतों के सूखने से समस्या और बढ़ेगी.

वहीं बुरुगा वार्ड के सदस्य अप्पला राजू ने कहा कि पीने के पानी की आपूर्ति की कमी के कारण पहाड़ी गांवों के आदिवासियों को भारी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है.

आदिवासी नेताओं ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार ने आजादी का अमृत महोत्सव के तहत जल जीवन मिशन के तहत सभी घरों में पाइप से पानी पहुंचाने का वादा किया था. हालांकि, उन्हें अभी तक पाइप लाइन से पानी की आपूर्ति नहीं हो पाई है.

चिलक्म्मा ने कहा कि उन्होंने अपनी समस्या ITDA के परियोजना अधिकारी और जिला कलेक्टर के ध्यान में लाकर समस्या के समाधान के लिए उनके हस्तक्षेप की मांग की है. हालांकि, अभी तक जल संकट का समाधान खोजने के लिए कुछ भी नहीं किया गया है. नेरेदुबंधा में 12 परिवारों के करीब 60 आदिवासी रह रहे हैं. आदिवासियों ने कहा कि जब उन्होंने स्कूल की कमी का मामला अधिकारियों के संज्ञान में लाया, तो इसे सुलझा लिया गया.

राधाम्मा ने कहा कि अब उन्हें उम्मीद है कि उनके गांव में पानी की समस्या का समाधान हो जाएगा। महिलाओं ने हाथ जोड़कर अधिकारियों से पानी की समस्या के समाधान की गुहार लगाई.

No Comments yet!

Your Email address will not be published.